Home Motivational story in hindi The 6 best motivational story in hindi- बेस्ट प्रेरणादायक कहानियां

The 6 best motivational story in hindi- बेस्ट प्रेरणादायक कहानियां

by Sonal Shukla
Motivational story in hindi

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आप सभी का एक बार फिर से हमारी साइट allsafal पर इस महत्वपूर्ण लेख में, मै आपको The 6 best motivational story in hindi- जीवन बदलने वाली प्रेरणादायक कहनियां बताने वाला हूं जिससे आपको जीवन में आगे बढ़ने के लिए प्रेरणा मिलेगी.

दोस्तों the best motivational story  जीवन में आगे बढ़ने की प्रेरणा देती है जिस प्रकार आग जले रहने के लिए कोयले की जरूरत पड़ती है, वैसे ही जीवन में आगे बढ़ने के लिए मोटिवेशन की जरूरत पड़ती है और यह मोटिवेशन हमें दो प्रकार से प्राप्त होता है.

एक बाहरी मोटिवेशन जो motivational story, inspirational stories, के किसी कामयाब इंसान की Success story and Motivational speaker  के Motivational speech से प्राप्त होता है.

और दूसरा मोटिवेशन होता है अंदर का मोटिवेशन यानी की किसी काम को करने की बर्निंग डिजाइन ही आपको हर क्षेत्र में सफलता दिला सकती है लेकिन इसके लिए आपको motivational books, motivational story भी पड़ना चाहिए.

The 6 best motivational story in hindi- जीवन बदलने वाली प्रेरणादायक कहानियां

Story 1

एक बार एक 15 साल का लड़का था जिसका पढ़ाई में बिल्कुल भी मन नहीं लगता था उसके बड़े बड़े सपने थे मै आगे चलकर करोड़पति बनूंगा, एक बड़ा बिजनेस खड़ा करूंगा.

एक दिन अपने पापा से कहता है कि पापा जी मेरा पढ़ाई में बिल्कुल भी मन नहीं लगता है और कहता है कि में पढ़ाई कर कुछ नहीं कर सकता मेरे बड़े बड़े सपने है, मै अमीर बनना चाहता हूं जो सिर्फ पढ़ाई कर के ही संभव नहीं है.


उस लड़के के पापा कहते हैं बेटा तेरी बात बिल्कुल सही है जब मै छोटा था तब मेरा भी मन पढ़ाई में बिल्कुल नहीं लगता था. लेकिन उससे मेने एक बात सीखी है वह मै तेरे को बताना चाहता हूं जिससे शायद तुझे कुछ सीखने को मिले और वह अपने बच्चे का हाथ पकड़ कर अपने घर से बाहर ले गया.

उसने एक बड़ी बिल्डिंग बताई और कहा, यह हवा में तो नहीं बन रही है ना, क्या तू इस बिल्डिंग को हवा में बना सकता है, इसको जमीन पर ही बना सकते हैं और बनाने के लिए पहले नीम खोदना पड़ेगा तभी जाकर एक बड़ी बिल्डिंग का निर्माण हो पाएगा.

ठीक उसी प्रकार तू अमीर बनना चाहता है, जीवन में सफल होना चाहता है उसके लिए तुझे पहले नीम खोदना पड़ेगा और वह नीम है तेरी एजुकेशन, बिना एजुकेशन के कुछ भी संभव नहीं है.

यह बात उस बच्चे को अच्छी तरह समझ आ गई है और वह मन लगाकर इतनी पढ़ाई करने लगा कि आगे चलकर वह बहुत बड़ा बिजनेसमैन बना और जीवन में एक कामयाब इंसान बना, उसने अपने सभी सपने पूरे कर लिए.

Moral this motivational story in hindi

दोस्तो यह motivational story  हर उस स्टूडेंट्स को प्रेरणा देती हैं जिनका पड़ने में मन लगता है जो बिल्कुल भी पड़ना नहीं चाहते हैं. उनको एक बात अवश्य ध्यान में रखना चाहिए जीवन में बिना एजुकेशन के कुछ भी हासिल नहीं कर सकते हैं एजुकेशन ही हर सफलता का रहस्य है.

Best inspirational story in hindi

एक बार छोटा किसान था वह अपने परिवार का पालन पोषण करने के लिए अपने खेत में सब्जियां लगाता है. और वह शहर में एक किराने की दुकान वाले व्यक्ति को अपनी सब्जियां रोज देता है और बदले में खाने का समान लेकर अपने घर आ जाता है जैसे- आटा, चीनी, दाल आदि.

एक दिन किराने की दुकान वाले व्यक्ति ने सोचा कहीं ये किसान मुझे दाम से कम कीमत कि सब्जियां तो नहीं देता है. उसने एक दिन किसान से पूछा कितने किलो सब्जियां लाए हो.

किसान ने जवाब दिया चार किलो, सेठ ने उसकी सच्चाई जानने के लिए उसे तोला और देखा, सब्जियां का वजन चार किलो की जगह तीन किलो था. इस बात पर सेठ को बहुत गुस्सा आया और वह उस किसान को कोर्ट में ले गया.


जब जज ने किसान से पूछा कि आप पैसे से कम सब्जियां क्यो देते हो, चार किलो की जगह तीन किलों क्यो देते हो, तब उस किसान ने कहा जज साहब में, जब सेठ जी मुझे खाना का आटा देते हैं.और कहते हैं कि यह चार किलों आटा है तो में उसी के बराबर सब्जियां देता हूं अब आप ही बताएं की गलती किसकी है तब जज साहब ने उस सेठ को दोषी ठहराया है।

Moral this inspirational story

इस प्रेरणादायक कहानी से हमें सीख मिलती है कि जितना आप दूसरों को देते हैं, उतना ही आपको मिलने वाला है. कभी भी किसी के साथ दोखा नहीं करना चाहिए नहीं तो आपको भी दौखा ही मिलने वाला है यानी की जैसे करनी वैसी भरनी.

Best motivational story in hindi

एक बार एक आदमी रास्ते से गुजर रहा था तब उसने रास्ते में देखा कि दो हाथी पतली रस्सी से बंधे हुए थे. तब अचानक रास्ते से गुजर रहे व्यक्ति के मन में यह सवाल आया है, कि इतने ताकतवर हाथी इतनी पतली रस्सी से कैसे बंधे हैं यह चाहे तो  इस रस्सी को एक झटके में तोड़ सकते हैं. लेकिन ऐसा क्यों नहीं कर रहे हैं

वह आदमी इसके पीछे का कारण जानने के लिए हाथियों के देखभाल करने वाले साधुओं के पास जाता है और एक साधु से पूछता है, कि महात्मा जी मुझे यह बताएं कि इतना विशाल हाथी, इतना ताकतवर हाथी जो  चाहे तो पैड तोड़ सकता है. लेकिन वह एक पतली रस्सी से बंधा हुआ है इसका क्या कारण है मुझे बताने की कृपा करें.


तब उस साधु ने उस आदमी को जवाब दिया कि जब हम  हाथी को जंगल में पकड़ने जाते हैं तो यह छोटे बच्चे के रूप में होते हैं. और हम उसको एक बड़ी जंजीर से बांध देते हैं और छोटा हाथी उस जंजीर को तोड़ने की बहुत कोशिश करता है. कहीं दिनों तक जंजीर को तोड़ने की कोशिश करता है.

लेकिन वह उसको तोड़ नहीं पाता है और कुछ दिनों बाद उस हाथी की मानसिकता यह हो जाती है कि में पैरो में बंदी हुई जंजीर की नहीं तोड़ सकता. और फिर वह प्रयास करना भी बंद कर देता है.

उसके बाद आप हाथी को भले ही पतली रस्सी से बांध दो लेकिन वह बचपन की मानसिकता के कारण रस्सी नहीं तोड़ पाता है तब उस आदमी को सारी बात समझ आ जाती हैं.

Moral motivational story

इस मोटिवेशनल स्टोरी से यह प्रेरणा मिलती हैं, की कुछ लोग इस लिए किसी काम में सफल नहीं हो पाते हैं, क्योंकि या तो पहले वह इस काम असफल हो गए या फिर किसी ने बोल दिया कि तू यह नहीं कर सकता है.

और वह व्यक्ति जीवन कभी भी उस हाथी की तरह प्रयास नहीं करता है इस इसलिए हमें यह बात अवश्य ध्यान रखना चाहिए कि हमारी बचपन की मानसिकता का आधार पर या फिर किसी के कहने का आधार पर हार नहीं मानना चाहिए.

क्योंकि सफलता एक बार और प्रयास करने से ही मिलती है जब तक सफल नहीं हो जाता है तब तक संघर्ष जारी रखो सफलता को एक ना एक दिन आना ही पड़ेगा.

motivational story in hindi

एक बार एक बच्चा और उसके पिता जी ट्रेन में सफर कर रहे थे उस आदमी का लड़का 24 साल का था वह ट्रेन की खिड़की के पास बैठा हुआ है जब ट्रेन चलती है तो वह अपने पिता जी कहता है.
देखिए पिता जी यह पैड ट्रेन के साथ दौड़ रहें हैं उसके पिता बच्चे की तरफ एक प्यारी सी मुस्कान करता है  उनके पास में एक पति पत्नी बैठे हुए थे.

कुछ देर बाद फिर वह अपने पिता जी से कहता है, देखिए पिता जी यह बादल हमारे साथ दौड़ रहें है. यह सुनने के बाद उसके पास बैठा व्यक्ति बोला, श्री मान आपके बैठे को आप डॉक्टर के पास क्यों नहीं ले जाते हैं, इसे डॉक्टर के पास जाने की आवश्यकता है.

इस पर उस बच्चे का father कहता है, जी हां श्री मान हम डॉक्टर के पास से ही आ रहे हैं मेरा बच्चा 24 साल से आंखो से अंधा था. इसके आंखो का ऑपरेशन करवाया है, इस लिए यह आज ही देख पा रहा है यह बात सुनकर वहा बैठे हुए बहुत शर्मिंदा हुए और कहां हमें माफ कर दीजिए.

Moral this inspirational story

इस प्रेरणादयक कहानी से हमें यह प्रेरणा और सीख मिलती है, कि किसी की पूरी सच्चाई जाने बिना कोई ग़लत प्रतिक्रिया नहीं करना चाहिए. पृथ्वी पर रहने वाले सभी लोगों की यह कहानी है एक दूसरे को अच्छी तरह से जानने के पहले ही प्रतिक्रिया दे देते हैं.

Motivational story in hindi

एक बार एक महात्मा और उनका एक शिष्य एक जंगल से गुजर रहे थे दोनों को पानी की प्यास लगी तो वह जल के साथ इधर उधर देखने लगे. तब उन्हें जंगल में एक घर दिखाई दिया है और वह पानी पीना के लिए उस घर की तरफ चल पड़े.

जब वह घर की तरफ जा रहे थे तो उन्होंने देखा कि घर के आस पास बहुत सारी बंजर भूमि पड़ी हुई थी जिस पर किसी प्रकार की कोई खेती नहीं होती रही है.

वह दोनों महात्मा उस आदमी के घर के पास पहुंचे और बाहर से आवाज लगाई कि कोई घर पर है. तब घर के अंदर से एक आदमी निकला और बोला बोलिए महात्मा जी मै आपकी क्या सहायता कर सकता हूं तब महात्मा बोले आप हमें जल पीला दीजिए.

वह आदमी घर से जल का गड़ा लाता है और महात्माओं को पीने के लिए देता है और महात्मा पानी पी लेते हैं तब महात्मा ने पूछा कि, आपके पास इतनी जमीन है, फिर भी आप किसी प्रकार की कोई खेती नहीं करते हैं इसका क्या कारण है जबकि इस भूमि से आप डेर सारा आनज कमा सकते हैं.

वह आदमी कहता हा गुरुजी हमारे पास एक भैंस है, को अच्छा और पर्याप्त मात्रा में दूध देती है जिससे हमारे जीवन का जीवन यापन हो जाता है हमें खेती करने की कोई जरूरत नहीं पड़ती है.

उन दोनों महात्माओं ने वही रात गुजारने का निर्णय लिया है और उस आदमी से यह इजाजत ली की हम आज की रात यही ठहरना चाहते हैं उस आदमी ने कहा आप यहां बिना किसी डर के रुक सकते हैं.

आधी रात को गुरु ने अपने शिष्य को जगाया और कहां कि उठो इस आदमी की भैंस को ले चलो और जंगल में छोड़ दो यह बात सुनकर शिष्य आश्चर्यचकित रहे गया. जो गुरु धर्म की राह पर चलने की शिक्षा देते हैं, आज वही गलत करने की बोल रहे हैं फिर भी गुरु थे तो उनकी बात को टाल भी नहीं सकते.

Motivational story in hindi

वह दोनों उठे और उस आदमी की भैंस को लेकर चल गए और उस भैंस को जंगल में छोड़ दिया और वह अपने आश्रम की ओर चले गए
कुछ सालों बाद वह शिष्य सोचने लगा कि क्यों नहीं उस आदमी के पास चलकर उसकी कुछ आर्थिक मदद की जाएं क्योंकि हमारी वजह से उसको नुकसान जो हुआ।

और वह चल देता है, जब वह उसके घर के पास पहुंचता है तो देखता है, की जो भूमि पहले खाली पड़ी हुई थी उसमें फसल लगी हुई थी, बड़े बड़े फलों के पौधे लगे हुए थे तब वह सोचने लगा कि शायद वह व्यक्ति जमीन बेचकर कहीं भाग गया है।

तब अचानक वही व्यक्ति वहा दिखता है तब वह महात्मा पूछता है कि क्या आपने हमें पहचाना तब वह आदमी बोला आपको कैसे भूल सकता हूं आप तो उस रात बिना बताएं रात को ही निकल गए थे और उसी दिन हमारी भैंस भी भाग गई थी।


जब से भैंस भागी है, मेने खेती करने का फैसला लिया और पूरी मेहनत से खेती कर रहा हूं आज मै अपने क्षेत्र का सबसे बड़ा किसान हूं अगर उस दिन वह भैंस नहीं भागती तो शायद मै कुछ कर पाता शायद ही अपने परिवार को अच्छी ज़िन्दगी दे पाता अब उस शिष्य को पूरी बात समझ आ गई है क्यों गुरुजी ने भैंस को जंगल में छोड़ने का निर्णय लिया।

Moral this motivational story

के इस कहानी में यह प्रेरणा मिलती है कि क्या आपके जीवन में तो कोई ऐसी भैंस तो नहीं है जो आपको कुछ नया करने नहीं दे रही है। आपके पास संसाधन है फिर भी आप कुछ नहीं कर रहे हैं अगर ऐसा है तो यकीन मानिए उसको निकाले और अपने कंफर्ट जोन से बाहर निकले अपने परिवार को अच्छी ज़िन्दगी दीजिए।

Motivational story in hindi for success

एक गांव में दो सगे भाई रहते थे, दोनों सगे भाई होने के कारण दोनों के पास बराबर धन, दौलत और जमीन थी लेकिन दोनों का सोचने का तरीका अलग अलग था पहले वाला भाई कोई काम नहीं करता है, और जो भी पिता जी द्वारा मिली धन दौलत की गलत शोक में उड़ाता रहता है। और कोई काम नहीं करता है, कहता है कि मेरे पास इतनी दौलत है कि में जीवन भर बैठ कर खाऊ तो भी कम नहीं पड़ने वाली है।


वही दूसरा भाई जितनी भी धन दौलत मिली है, उसको सही business में इन्वेस्ट करता है और किसी प्रकार का कोई ग़लत कार्य नहीं करता है वह हर साल अपनी बचत को इन्वेस्ट करता रहता है और पहले वाला भाई हर दिन अपनी दौलत में से गलत खर्च करता रहता है।


इसका यह अंजाम होता है कि सिर्फ कुछ ही सालों में एक भाई अपने क्षेत्र का सबसे अमीर व्यक्ति बन जाता है और दूसरा भाई बिल्कुल भिखारी बन जाता है जबकि दोनों को बराबर धन दौलत मिली थी।

Moral this motivational story

यह कहानी उन लोगों के लिए है, जो जीवन में अमीर बनना चाहते हैं अगर आपको अमीर बनना है तो हर साल इन्वेस्ट करना पड़ेगा अगर आप कोई काम या इन्वेस्ट नहीं करते हैं तो आपके पास जितनी भी धन दौलत है वह सब समाप्त हो जाएगी।

Summary The 6 best motivational story in hindi

दोस्तों इन सभी motivational story से हमें यह प्रेरणा मिलती है कि जीवन में ज्ञान, मेहनत, सकारात्मक सोच से साथ आप हर मंजिल को हासिल कर सकते हैं साथ ही सफल होने के लिए आपको कंफर्ट जोन से बाहर निकलने की जरूरत है।
उम्मीद करते हैं आपको The 6 best motivational story in hindi के से आपको बहुत कुछ सीखने को मिला होगा और आपके जीवन में आगे बढ़ने के लिए प्रेरणा मिली होगी धन्यवा
द।

Related Articles

Leave a Comment