Home Motivational tips खुश कैसे रहें? खुश रहने के 20 उपाए khush rahne ke tarike

खुश कैसे रहें? खुश रहने के 20 उपाए khush rahne ke tarike

by Sonal Shukla
Khush rahne ke tarike

एक बात तो सही है कि हम जीवन में सभी को खुश या प्रसन्न नहीं रख सकते हैं, लेकीन यह भी सच ही है हम अपनें आप को खुश रख सकते हैं. ज्यादातर लोग नही जानते हैं कि जीवन में खुश कैसे रहें? अर्थात खुश रहने के तरीके क्या क्या है. तो दोस्तों चिंता करने की कोई जरुरत नहीं है क्योंकि हम इस लेख में जानेंगे, har waqt khush kaise rhe, khush kaise rhe, and khush rahne ke tarike जिससे आप फॉलो करते हैं तो आप हमेशा खुश और प्रसन्न रहोगे.

दोस्तों में आप सभी से एक महत्वपूर्ण बात कहना चाहता हू आप आज से और अभी से सभी को खुश करना छोड़ दीजिए, क्योंकि ऐसा आप कर ही नहीं सकते हैं. सबको खुश करना आपके हाथ में नहीं हैं, बल्कि खुद को खुश रखना पूरी तरह आपके हाथ में है. चलिए जानते हैं खुश रहने के तरीके के बारे में.

खुश कैसे रहें? खुश रहने के 20 तरीके । Khush kaise rhe, khush rahne ke tarike

1 माफ करना और कुछ बातों को बुलना सीखिए

दोस्तों कभी कभी हमें जीवन में खुश रहने के लिए किसी को माफ करना पड़ता है, और एक सफ़ल और ख़ुश व्यक्ती माफ करने में कोई संकोच नहीं करता है. और मूर्ख व्यक्ति जीवन में कभी भी किसी को माफ नहीं कर सकता है, अगर आप जीवन में ख़ुश रहना चाहते हैं तो लोगों को माफ कीजिए.

और दूसरी बात हमें ख़ुश रहने के लिए करनी होती हैं, वह है कुछ बातों को भूलना चाहिए, क्योंकि कभी कभी हमारे जीवन में ऐसी घटनाएं हो जाती है जो हमें हमेशा दुःख पहुंचाने का कार्य करती हैं. ख़ुश रहने के लिए हमें उनको भूलना ही पड़ता हैं, क्योंकि अगर हम पास्ट की बातों को नहीं बुलते है तो कसम से हम कभी भी ख़ुश नहीं रहे सकते हैं. यह khush rahne ka raaz हैं जो हर कोई नहीं जानता है.

ख़ुश रहने के लिए माफ करना और पास्ट की बातों को भूल जाना आवश्यक हैं, नहीं तो आप ख़ुश नहीं रहे पाओगे.

2 बुरे लोग और बुरी चींजो से हमेशा दूर रहे

दोस्तों खुश रहने के लिए आपको अपने जीवन से ऐसे लोगों को निकाल देना चाहिए जो बुरे हैं, जिनमें गलत आदतें है, जो समाज में गलत कार्य करते हैं. अर्थात जो नेगेटिव सोचते हैं और आपको भी नेगेटिव करते हैं ऐसे लोगों से दूरी बनाए रखना आपकी खुशी का सबसे बड़ा कारण हो सकता है.

साथ ही ऐसी चीजों का त्याग करें अर्थात उनसे दूर है जो बुरी है जैसे शराब पीना, सिगरेट पीना आदि जिससे आप कभी भी खुश नहीं रह सकते हैं. क्योंकि खुशी के लिए आपको शारीरिक रूप से और मानसिक रूप से फिट रहने की बहुत जरूरत है इसी के आधार पर आप अपने जीवन में खुश रह सकते हैं इसलिए बुरे लोगों और बुरी चीजों से हमेशा दूरी बनाए रखें.

3 खुद को माहुल में डालने कि कोशिश करें

अगर आप ख़ुश रहना चाहते हैं तो आप जहां रहते हैं, वहां के माहुल में अपने आप को डालने कि कोशिश कीजिए, क्योंकि यह ख़ुश रहने के लिए आवश्यक हैं. आपको कोई बहाना नहीं बनाना चाहिए, जैसे मेरे आस पास नेगेटिव लोग रहते हैं, मेरे आसपास वातावरण शांत नहीं है, इत्यादि. अगर आप ऐसा करते हैं तो यकीन मानिए आप कभी भी ख़ुश नहीं रहे पाओगे.

यहां पर खुद को माहुल में डालने का अर्थ यह भी है आप जो भी कार्य कर रहे हैं उससे प्यार कीजिए, क्योंकि की जबतक आप अपनें कार्य से प्यार नहीं करेंगे तब तक आप ख़ुश नहीं रहे पाएंगे.

ख़ुश रहने के लिए आपको वहीं कार्य करना चाहिए, जिसमें आप अच्छे हैं, जिसको करते वक्त आपको आंनद आता हो, क्योंकि यह सफ़लता और खुशी के लिए आवश्यक हैं.

इसके अलावा आप अपनें परिवार समाज दोस्तों के माहुल में आपको डालना चाहिए, क्योंकि अगर आप इनसे भी दुर रहते हैं या फिर परेशान रहते हैं तो आप यकीन मानिए कभी खुश नहीं रहे पाएंगे. इसलिए आपको ख़ुश रहने के लिए हर प्रकार के माहुल में डाल लेना चाहिए.

4 अपने आप को व्यस्त रखें khush rahne ke tarike

एक सर्वे के अनुसार यह पता चला है कि वही लोग ज्यादातर दुःखी रहते हैं जो खाली बैठे रहते हैं. इसलिए अपने आप को अपने कार्य में इतना व्यस्त रखें कि आपको दुखी होने का समय हि ना मिले.

खाली दिमाग शैतान का घर होता है जो आपको सिर्फ़ और सिर्फ़ दुःखी ही कर सकता है, इसलिए अपने दिमाग को खाली ना रखें, बल्कि अपने दिमाग का प्रयोग जीवन में आगे बढ़ने के लिए कीजिए.

○यहां पर आपको हम आपको एक बात विशेष रूप से कहना चाहेंगे, व्यस्त होने का मतलब यह नहीं है कि आपको सिर्फ़ किसि भी ग़लत कार्य में व्यस्त होना है. अगर आप ऐसा करते हैं तो आप और ज्यादा दुःखी रहेंगे.
सिर्फ़ व्यस्त होना ही काफी नहीं है, व्यस्त तो चींटी भी होती है, आप किस कार्य में व्यस्त हैं यह महत्वपूर्ण होता है.0 इसलिए उन्ही कार्य में व्यस्त रहे जो आपके लक्ष्य के लिए आवश्यक हैं, तब आप कभी दुखी नहीं होयेंगे और हमेशा खुशी रहेंगे.

5 Overthinking से बचें

दुःखी रहने का यह सबसे बड़ा कारण है, लोग हमेशा Overthinking में रहते हैं, इसलिए Overthinking से हमेशा बचना चाहिए. ख़ुश रहने के लिए अपने आप से उतना ही एस्पेक्ट कीजिए, जितनी आपकी क्षमता हैं, जितना आप कर पाएं अन्यथा आप दुःखी हो जाएंगे.

इससे बचने और ख़ुश रहने के आपको हमेशा अपने कार्य में हार्ड वर्क करना चाहिए, इससे आप कभी दुःखी नहीं होएगें, साथ आपको आपकी एस्पेक्ट से ज्यादा ही मिलेगा.

6 बिना सोचे समझे कोई कदम नहीं उठाए

अपने आप को खुश रखने के लिए हमेशा कोई भी कार्य करने से पहले उसमें पूरी रिसर्च कर लेना चाहिए, क्योंकि कोई ग़लत कदम उठ गया है तो आप बहुत दुःखी हो जाएंगे. आज जो भी नया कदम उठाने वाले हैं उसमें नेगेटिव ओर पॉजिटिव पॉइंट दोनो को ही अच्छे से समझ लेना चाहिए. तभी आप कोई नया कार्य स्टार्ट करे, तब आप ख़ुश रहें सकते हैं.

कोई भी ऐसा कार्य ना करें जिसके लिए आपको बाद में पछताना पड़े, इसलिए उसकी जाच पहले ही कर लेना चाहिए. यह आपको ख़ुश रखने का मुख्य पॉइंट हैं, जब आप किसी चीज या कार्य को नेगेटिव और पॉजिटिव दोनों तरफ से देखते हैं तो आप दुःखी नहीं होएँगे.

7 किसी के काम में या बात में अर्थात किसी व्यक्ति को तब तक सलाह मत दीजिए जबतक वह आपसे नहीं पूछे, क्योंकि कभी कभी आपको किसी को सलाह देना भी दुखी कर सकता है. इसलिए ख़ुश रहने के लिए तबतक किसी की बातों में दखल ना दे जबतक वह आपसे पूछता नहीं है.

8 ख़ुश रहने के लिए आपको हर व्यक्ति, हर वस्तु और हर परिस्थिति में अच्छाई को खोजना है, ना कि बुराई को, अक्सर देखा गया है ख़ुश रहने वाले लोग अच्छाई को खोजते हैं. बल्कि दुःखी रहने वाले लोग हमेशा हर व्यक्ति में बुराई को देखते हैं, इसलिए ख़ुश रहना आपके नजरिए के ऊपर हैं.

अगर किसी व्यक्ति ने गलती कर भी दी है तो उसकी अच्छाई देखकर उसे माफ कर देना चाहिए, इससे आपको बहुत बडा सुकून मिलेगा और आप फालतू की उलझनों से बच पाएंगे.

खुश रहने के तरिक khush rahne ke tarike

9 ख़ुश रहने के लिए हमेशा अपने intrest का कार्य करें, या फिर आप जो कार्य कर रहे हैं उसमें अपना पूरा मन लगाएं अर्थात उसमें इंटरेस्ट पैदा करें. क्योंकी खुशी के लिए यह बहुत जरूरी है, देखा गया है कि इस दुनियां में ज्यादातर लोग इस बात से दुखी हैं कि उन्हें अपने मन का कार्य नहीं मिल पाता है.

इसलिए जीवन में खुश रहने के लिए यह बहुत जरूरी है आपको वहीं कार्य करना चाहिए जो करने में आपको आंनद आता है और उसे आप दिन रात बिना रुके कर सकते हैं.

10 ख़ुश रहने के लिए कभी कभी आपको खुद की बातों पर भी यकीन नहीं करना चाहिए, क्योंकि हमारे दिमाग में हर रोज साठ हजार से भी ज्यादा बार अलग अलग विचार आते हैं. इसलिए हमें सभी विचारों पर विश्वास नहीं करना चाहिए, बल्कि हमें उन्हीं विचारों पर विश्वास करना चाहिए जो हमारे लक्ष्य के लिए जरूरी है. बाकी विचारों पर ध्यान नहीं देना चाहिए.

साथ ही किसी भी व्यक्ती की बातों पर विश्वास नहीं करना चाहिए, अगर आपको लग रहा है यह व्यक्ती जूठ बोल रहा है उसकी बातों पर यकीन नहीं करना चाहिए. इससे आप हमेशा खुश रहें पाएंगे, वो कहा जाता है कि सुनो सबकी और करो मन की तो ख़ुश रहने का राज यहीं हैं.

11 सच बोलना सीखिए

ख़ुश रहने के लिए आपको आपको हमेशा सच बोलना पड़ेगा और यह खुश रहने का रहस्य हैं, भले ही कोई भी बात हो आपको हमेशा सच ही बोलना चाहिए. हो सकता है आपको सच बोलने से थोड़ी बहुत मुश्किल का सामना करना पड़े, लेकीन जीवन भर खुश रहने के लिए आपको सच बोलना ही पड़ेगा.

हम देखते हैं अक्सर वहीं लोग ज्यादा दुखी रहते हैं जो लगातार जूठ पर झूठ बोलते जाते हैं, और वह दुःखी होने के कारण अपने कार्य पर भी सही से फोकस नहीं कर पाते हैं.

12 अपना कोई उद्देश्य बनाओ

अगर आप हमेशा खुश रहना चाहते हैं तो अपने जीवन में आपका कोई उद्देश्य होना चाहिए, अर्थता आपका कोई लक्ष्य होना चाहिए. जिसे पाने के लिए आप दीन रात मेहनत करना चाहते हैं, इससे आप हमेशा खुश रहेंगे. अक्सर हम देखते हैं वहीं लोग ज्यादा दुखी होते हैं जिनके जीवन का कोई उद्देश्य नहीं होता है.

क्योंकी जिसका कोई उद्देश्य नहीं होता है वह इधर उधर फालतू के कार्यों में बटकता रहता है और अंत में उसे दुःख और निराशा के अलावा कुछ नहीं मिलता है.

बड़े लक्ष्य को कैसे हासिल करे

13 खुश और सफ़ल होने के लिए अपनी जिम्मेदारी को समझना चाहिए, क्योंकि जिन्हें अपनी जिमेदरियो का अहसास होता है उन्हे दुःखी होने का अहसास ही नहीं होता है.

14 हमेशा खुश रहने के लिए अपने परिवार वालों के साथ मील जुल कर रहे, कभी भी अपने परिवार वालों से बहस ना करें, यहीं आपको हमेशा खुश रख पाएंगे. साथ ही कभी भी ऐसा कार्य ना करें जिससे आपके परिवार वालों को दुख का सामना करना पड़े, क्योंकि अगर आपका परिवार दुःखी हैं तो आप कभी ख़ुश नहीं रहे पाएंगे यह एक कड़वा सच है.

15 अपने समय को बर्बाद ना करें

ख़ुश रहने के लिए आपको अपने समय अर्थात कीमती समय को फालतू के कार्यों में बर्बाद नहीं करना चाहिए, क्योंकि समय एक बार हाथ से निकल जाने के बाद वापिस नहीं आता है. इसलिए हमेशा समय का सदुपयोग करें और अपने लक्ष्य के लिए समय का उपयोग कीजिए. समय का सदुपयोग कैसे करें यह जानने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें. समय का सदुपयोग कैसे करें
अक्सर वहीं लोग ज्यादा दुखी रहते हैं जो समय की कीमत नहीं समझ पाते हैं, और लगातार फालतू के कार्यों में समय की बरबादी करते रहते हैं.

16 हैप्पी रहने के लिए दूसरों को दोष देना बंद कीजिए, बल्कि अपनी जिम्मेदारियों को पहेचाने और अपनी गलतियों से सीखते रहे. अगर आप खुश रहना चाहते हैं तो अपनी गलतियों को जीवन में कभी नहीं दोहराना चाहिए.

खुश रहने के तरीके khush rahne ke tarike

17 हमेशा खुश रहने के लिए साफ सुथरे वातावरण में रहें, क्योंकि यह ख़ुश रहने के लिए जरूरी है.

18 अपने कार्य को अपने अनुसार कीजिए, दूसरों को साबित करने के लिए कुछ नहीं करना चाहिए, बल्कि वहीं करें जो आपको पसंद है जो आप करना चाहते हैं.

19 आपके पास जों कुछ भी हैं, जैसे हालात हैं उसमें खुश रहना सिखो, और अपने लक्ष्य के लिए हार्ड वर्क कीजिए. क्योंकी सिर्फ़ बैठे रहने से कुछ नहीं मिलता है, बल्कि कुछ पाने के लिए दीन रात मेहनत करनी पड़ती हैं.

20 खुश रहने के आपको बाहना बनना छोड़ दीजिए, क्योंकि बहाना बनाने वाला व्यक्ति कभी खुश नहीं रहे सकता है, बल्कि वह दुःखी ही रहता है.

Conclusion

उम्मीद करते हैं आपको खुश कैसे रहें? ख़ुश रहने के 20 तरीके, khush kaise rhe khush rahne ke tarike से आपको बहुत कुछ सीखने को मिला होगा. और आशा करते हैं आप इन सभी खुश रहने के टिप्स को फॉलो करेंगे और अपने जीवन को खुशी बनाएंगे.

Related Articles

Leave a Comment